चल और अचल निवेश क्या है

चल सम्पति का मतलब है जिस सम्पति को हम कहीं भी लेकर जा सकते है और अचल सम्पति वह सम्पति होती है जिसे हम कहीं भी लेकर नहीं जा सकते। अचल सम्पति के कुछ उदाहरण है जैसे जमीन, मकान, मत्स्य पालन, और भूमि से जुडी सभी चीजे। चल सम्पति के उदाहरण आभूषण, नकद, सोना आदि।

अचल निवेश क्या है

जब आप अपने पैसे से कोई जमीन मकान खरीदते हो उसे अचल निवेश कहते है। इस तरह की इन्वेस्टमेंट में लगा हुआ पैसा आप एक जगह से दूसरे जगह पर लेकर नहीं जा सकते। परन्तु चल निवेश में आप जब किसी गोल्ड, कार, लैपटॉप आदि में निवेश करते है तो आप उसे कही भी लेकर जा सकते है।

अचल सम्पति क्या है

अचल सम्पति का सीधा सीधा है कि जिस सम्पति स्थान से दूसरे स्थान पर नहीं ले जाया सकता उसे अचल (Immovable Property) सम्पति कहते है ।

अचल सम्पति एक ऐसी सम्पति है जो लम्बे समय में शेयर बाजार से भी ज्यादा मुनाफा देती है इसमें कभी भी नुकसान होने का डर नहीं होता है। जैसे शेयर बाजार में शेयर का भाव ऊपर नीचे होता रहता है परन्तु यह पर जमीन का बाव नीचे आने के चांस बहुत कम होते है।

अचल सम्पति के अंदर पेड़, पौधे, मत्स्य पालन, गोदाम, मैन्युफैक्चरिंया प्लांट आदि भी आते है। परन्तु गोदाम और मैन्युफैक्चरिंग प्लान को हम चल सम्पति मान सकते है परन्तु पेड़ पौधे अचल सम्पति के अधीन है।

जैसे कि आपने अपनी जमीन पर किसी सब्जी या फल के पेड़ पौधे लगाए हुए है तो इन पेड़ पौधों की कीमत जमीन से अलग लगाई जाएगी ।

अचल संपत्ति का मतलब क्या होता है?

जिस सम्पति को हम जगह से दूसरे जगह नहीं ले जा सकते उसे अचल सम्पति कहते है जैसे जमीन, मकान पेड़ पौधे आदि।

चल संपत्ति कौन कौन सी होती हैं?

नकद, सोना – चांदी, हीरे, लैपटॉप, घड़ी, मोबाइल, कार आदि

Leave a Comment